लघु एवं मंझले उद्यमों की प्रौद्योगिकी के आधुनिक केंद्र के निर्माण का शिलान्यास

लघु एवं मंझले उद्यमों की प्रौद्योगिकी के आधुनिक केंद्र के निर्माण का शिलान्यास आज ग्रेटर नोएडा में हो रहा है। मैं विभाग के मंत्री आदरणीय कलराज मिश्र जी का ह्रदय से धन्यवाद् करता हूँ। इसके शिलान्यास के लिए महामहिम राज्यपाल आदरणीय श्रीराम नाइक जी आज ग्रेटर नोएडा पधारे। मुझे हार्दिक प्रसन्नता इस बात की है कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा उत्तर भारत के विकास मानचित्र पर तेजी से उत्तरोत्तर आगे बढ़ रहा है ।

महाराणा प्रताप गौरव केंद्र का लोकार्पण समारोह

भारतीय इतिहास की वीरगाथा के शिखर महापुरुष महाराणा प्रताप की भूमि उदयपुर के पावन स्पर्श से मन पुलकित हुआ। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक आदरणीय मोहन राव भागवत जी की गरिमामयी उपस्थिति और राजस्थान की लोकप्रिय मुख्यमंत्री आदरणीया वसुंधरा राजे जी की उपस्थिति में उदयपुर में महाराणा प्रताप गौरव केंद्र का लोकार्पण समारोह सम्पन्न हुआ। इस कार्य में लगभग 100 करोड़ रुपया सामाजिक सहयोग से प्राप्त हुआ। केंद्र सरकार के अन्तर्गत संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय के संयुक्त प्रयासों से उदयपुर और मेवाड़ में महाराणा की स्मृति को लाइट-साउंड शो के माध्यम से जीवंत चित्रण के द्वारा आने वाले दर्शकों के लिए विशेष रुचिपूर्ण और ज्ञानप्रद बनाया जायेगा। इस ऐतिहासिक कार्य में आहुति देने का सौभाग्य मुझे प्राप्त हुआ। इस कार्य में सहयोग देने वाले सभी महानुभावों का ह्रदय से धन्यवाद ज्ञापित करता हूं।

परिवर्तन यात्रा में देवरिया में

पश्चिम उत्तर प्रदेश से यूपी के पूर्वी छोर तक चतुर्दिक परिवर्तन की लहर चल रही है। पारिवारिक समाजवाद का वंशबेल और काले धन से उपजी दौलत की माया उखड़ रही है। परिवर्तन यात्रा के चरण में आज देवरिया में हूं। हर दिन परिवर्तन का सवेरा प्रखरतम होता जा रहा है।

परिवर्तन यात्रा में अपने लोकसभा क्षेत्र गौतमबुद्ध नगर के खुर्जा एवं सिकंदराबाद विधानसभा में

परिवर्तन यात्रा में अपने लोकसभा क्षेत्र गौतमबुद्ध नगर के खुर्जा एवं सिकंदराबाद विधानसभा में कार्यकर्ताओं के साथ ।

गौतमबुद्ध नगर लोकसभा के दादरी और जेवर विधानसभा में परिवर्तन यात्रा

गौतमबुद्ध नगर लोकसभा के दादरी और जेवर विधानसभा में परिवर्तन यात्रा का भव्य स्वागत हुआ ।युवाओं का जोश, बुजुर्गों का आशीर्वाद और मातृशक्ति का अपार स्नेह परिवर्तन यात्रा के माध्यम से प्रदेश में सत्ता परिवर्तन का संकेत है।

सिरसागंज फिरोजाबाद में परिवर्तन यात्रा

आज परिवर्तन यात्रा में सिरसागंज फिरोजाबाद में हूँ। उत्तर प्रदेश में हर तरफ़ अपराध, भ्रष्टाचार से जनता त्रस्त है अौर विकास के नये सवेरे का इंतज़ार कर रही है।आने वाले विधान सभा चुनाव में जनता उत्तर प्रदेश को सपा बसपा मुक्त देखना चाहती है। परिवर्तन यात्रा में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने संकल्प ले लिया है कि उत्तर प्रदेश में विकास का नया सवेरा लाकर रहेंगे ,मित्रों आइये एक नया उत्तर प्रदेश बनाने की दिशा में आगे बढें।

सोरम गाॅव के एक मशहूर चौपाल में

सामाजिक, राजनीतिक मुद्दों के विचार विमर्श का स्थान है चौपाल, आज मुजफ्फरनगर दौरे के दौरान सोरम गाॅव में एक ऐसे ही मशहूर चौपाल में सम्मिलित हुआ। इस सुप्रसिद्ध चौपाल को एक ऐतिहासिक धरोहर के रूप में विकसित किया जायेगा।

भारतीय किसान यूनियन द्वारा आयोजित किसान महापंचायत कार्यक्रम में

मुजफ्फरनगर में केंद्रीय राज्यमंत्री डाॅ संजीव बालियान जी के साथ भारतीय किसान यूनियन द्वारा आयोजित किसान महापंचायत कार्यक्रम में सम्मिलित हुआ।

बिजनौर में परिवर्तन यात्रा

बिजनौर में परिवर्तन यात्रा को अपार समर्थन देखकर ख़ुशी हुई। अभी तो यात्रा का प्रारंभ है, लखनऊ में यात्रा के अंत तक उत्तर प्रदेश में अराजकता का अंत भी सुनिश्चित है। परिवर्तन यात्रा में कृषि राज्य मंत्री श्री संजीव बाल्यान जी, बिजनौर से सांसद श्री कुंवर भारतेंदु सिंह जी, नगीना से सांसद डाॅ यशवंत सिंह जी, विधायक श्री लोकेन्द्र चौहान जी, क्षेत्रीय अध्यक्ष श्री भूपेंद्र सिंह जी, प्रदेश मंत्री श्री देवेन्द्र सिंह जी , जिला अध्यक्ष श्री राजीव सिसोदिया जी भी उपस्थित रहे।

औरैया, विधुना विधानसभा में परिवर्तन यात्रा की जनसभा की कुछ झलकियां।

औरैया, विधुना विधानसभा में परिवर्तन यात्रा में कार्यकर्ताओं का जोश तथा जनता का उत्साह उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के अवश्यम्भावी जीत का स्पष्ट संकेत है। आज परिवर्तन यात्रा मे विधूना विधानसभा जिला औरैया में हूँ।

वडनगर दौरे के दौरान

वडनगर दौरे के दौरान हाटकेश्वर मंदिर में पूजन अर्चन का सौभाग्य प्राप्त हुआ। हाटकेश्वर मंदिर का बहुत ही महात्म है तथा इसका उल्लेख गुजरात के पुराने ग्रंथो में मिलता है, पूजन के साथ वहां के अतिथि गृह का उद्घाटन किया तथा वडनगर के पुस्तकालय का भी अवलोकन किया।

वड्नगर, गुजरात में 640 हारमोनियम वादक

वड्नगर, गुजरात के सभी 640 हारमोनियम वादकों को हार्दिक बधाई जिन्होंने एक साथ ताना- रीरी महोत्सव में हारमोनियम वादन द्वारा विश्व रिकॉर्ड बनाया।

वर्ल्ड ट्रैवल मार्ट, लंदन में उद्घाटन के अवसर पर

लंदन में वर्ल्ड ट्रैवल मार्ट के उद्घाटन का अवसर देश में पर्यटन को बढ़ाने के लिए अत्यंत उपयोगी है। विशेष रूप से भारत के अनेक प्रांतों के विविधता भरे पुरातात्विक शिल्प सौंदर्य और प्राकृतिक सुषमा को देखने-समझने की उत्सुकता हर किसी में दिखाई पड़ी। गुजरात में कच्छ का रण, विश्व प्रसिद्ध पुष्कर मेला, जगन्नाथ यात्रा, कश्मीर से लेकर पश्चिमी घाट के प्राकृतिक सौंदर्य, पूर्वोत्तर भारत के आकर्षक दृश्यों के साथ गोदावरी-नर्मदा और गंगा-यमुना किनारे विकसित सांस्कृतिक विविधताओं के संगम समेत विश्व विरासत का हिस्सा बन चुके भारतीय पर्यटन स्थलों के प्रति लोगों में सहज आकर्षण दिखाई दिया। उत्तर हो या दक्षिण, पूरब हो या पश्चिम, भारत के हर कोने में पर्यटकों को आनंद प्रदान करने के लिए अद्भुत विरासत बिखरी पड़ी है। हम इसे जितना अधिक सहेज कर रखेंगे, विश्व उतना ही हमारे निकट आता चला जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय होटल उद्योग से जुड़े प्रतिनिधियों के साथ शिष्टाचार भेंट

वर्ल्ड ट्रैवल मार्ट, लंदन में भारत की सभ्यता और संस्कृति की अमिट छाप देखने को मिली। वर्ल्ड ट्रैवल मार्ट, लंदन में अंतरराष्ट्रीय होटल उद्योग से जुड़े प्रतिनिधियों के साथ शिष्टाचार भेंट और वार्ता।

अतिथि देवो भव: हमारी संस्कृति – हमारी पहचान

मेरा विश्वास है कि भविष्य में भारत के विकास में पर्यटन उद्योग की महत्वपूर्ण भूमिका होगी | दुनिया के विकसित या विकासशील देशों के मुकाबले भारत में पर्यटन उद्योग के विकास की अपार संभावनाएं है | हमारे सांस्कृतिक मूल्यों का ध्येय वाक्य है “वसुधैव कुटुम्बकम” | अतिथियों के लिए हमारा भाव वही होता है, जो देवता के लिए, और इसीलिए हमारे आतिथ्य संस्कार का चिंतन है “अतिथि देवो भव:” |
प्रकृति ने भारत की दिव्य भूमि को अनुपम पारिस्थितिकी (जलवायु) उपहार में दी है जैसे हिमालय शिखर, थार मरुस्थल, गंगा का मैदान, पूर्वी तथा पश्चिमी घाट भौगोलिक विविधता का बेहतरीन संगम आदि | छः ऋतुओं का ऐसा संगम भी सिर्फ यहीं देखने को मिलता है | एक ही समय पर भारत के एक प्रदेश में ठंढ रहती है तो किसी अन्य में गर्मी और कहीं बरसात |

विश्व की पुरातन और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत हमारे पास है | दुनियां को आध्यात्म, योग और आयुर्वेद का उपहार भारत ही दे रहा है | सभी धर्मों के अनेकों पवित्र स्थल भारत में है | वर्षभर चलते रहने वाले पर्व-त्यौहार, मेले और कुम्भ जैसा आस्था का जनसैलाब भी यहीं दिखता है | भिन्न-भिन्न भाषा, रंग-रूप और वेश-भूषा के बावजूद भारत की पहचान उसकी एकता से है, जिसे हम स्नेह से भारत माता पुकारते हैं |

आजादी के सात दशक बीतने को है | अब हम विकसित भारत का स्वप्न लिए नए गति से विकास की ओर अग्रसर है |
विकसित देशों की श्रेणी में खड़े होकर उनके साथ कदम-ताल करने के लिए हमें आर्थिक उन्नति के नए आयाम तलाशने की जरुरत है | भारत के आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने में पर्यटन एक बेहतर माध्यम बनेगा ऐसा मेरा विश्वास है |

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा मुझे पर्यटन, संस्कृति मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है | इन दोनों मंत्रालयों का कार्य परस्पर प्रभावी है | भारतीय संस्कृति और पर्यटन के दूत (एम्बेस्डर) बनकर माननीय प्रधानमंत्री जी स्वयं दुनिया भर में चर्चा कर रहे हैं । “अकेला पर्यटन भारत की तस्वीर बदलने में सक्षम है” यह शब्द आदरणीय प्रधानमंत्री जी के हैं । एक और महत्वपूर्ण बात यह है कि २०१४-१५ के आंकड़े के अनुसार कुछ देशों के विशेष कारण को छोड़कर प्रधानमंत्री जी ने जिन देशों की यात्रा की है वहां से पर्यटक आगमन बढ़ा है । निश्चित रूप से आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में आज विश्व में भारत, भारतीयता और भारत के लोगों का मान-सम्मान बढ़ है ।

हमारी सरकार ने पर्यटन तथा संस्कृति मंत्रालय के महत्व को ध्यान में रखते हुए पिछले दो वर्ष में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं | भारत में पर्यटन की विकास दर दुनिया के अन्य देशों से अधिक है। पिछले तीन वर्षों में घरेलू तथा विदेशी पर्यटकों की संख्या में गुणात्मक परिवर्तन आया है , जिसका विवरण आकड़ो में आप देख सकते है । सबसे प्रसन्नता की बात यह है कि पर्यटन से विदेशी मुद्रा अर्जन में दुनिया की वृद्धि दर -5% है जबकि भारत की +4% है। स्वच्छता, सुरक्षा, सत्कार और सुगमता (कनेक्टिविटी) को सुनिश्चित करना हमारी प्राथमिकता है । इस दिशा में हम समग्रता से कार्य कर रहे हैं । इसके परिणाम भी आने लगे हैं । विश्व पर्यटन तालिका में भारत 65 वें स्थान से 52 वें स्थान पर आ गया है । 13 पायदान की प्रगति हम सबके लिए शुभ समाचार है ।

दुनिया में पहली बार किसी देश ने पर्यटकों के लिए बहुभाषीय टूरिस्ट हेल्प लाइन शुरू की है । बारह भाषाओँ में यह हेल्प लाइन पर्यटकों को उसी के भाषा में जानकारी उपलब्ध करवाता है । इसकी सेवा निःशुल्क है । नंबर है 1800111363 या 1363। इसके साथ ही मोबाईल एप और इनक्रेडिबल इंडिया के वेबसाइट को भी पर्यटकों के लिए और उपयोगी बनाया जा रहा है ।

इन निर्णयों और सुविधाओं के तत्काल प्रभाव से विदेशी तथा घरेलू पर्यटकों की संख्या में गुणात्मक परिवर्तन आया है, जो कि भविष्य के लिए शुभ संकेत है | यह सच्चाई है कि हमने पर्यटन क्षेत्र को आजादी के सत्तर सालों में गंभीरता से नहीं लिया । आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश में जो नई सरकार आई उसके प्राथमिकता में रोजगार और महिला सशक्तिकरण है । पर्यटन देश की तस्वीर बदलने में सक्षम है। रोजगार, विदेशी मुद्रा अर्जन और महिला सशक्तिकरण के साथ-साथ पर्यटन के माध्यम से भारतीय संस्कृति को दुनिया के कोने-कोने तक पहुँचाना हमारा लक्ष्य है ।