स्वदेश दर्शन योजना के अऩ्तर्गत चंदौली लोकसभा क्षेत्र में

स्वदेश दर्शन योजना के अऩ्तर्गत चंदौली लोकसभा क्षेत्र में अनेक विकास कार्यों का आज शिलान्यास स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री आदरणीय डॉ. महेंद्र नाथ पाण्डेय जी के साथ सम्पन्न हुआ। चंदौली में गंगा किनारे बलुआ घाट का निर्माण, मुगलसराय के पास नियामताबाद में शिवमंदिर के पास घाट निर्माण एवं सौन्दर्यीकरण एवं बाल्मिकी कुंड के जीर्णोद्धार के लिए केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय की ओर से धनराशि स्वीकृत की जा चुकी है। शीघ्र ही इन तीनों स्थानों पर विकास कार्य पूर्ण होने से आम लोगों और तीर्थ यात्रियों की यात्रा सुविधाजनक हो जाएगी।

श्री गुरु हरिकृष्ण साहिब जी गुरुद्वारा में

श्री गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में आज नॉएडा सेक्टर- 12 के श्री गुरु हरिकृष्ण साहिब जी गुरुद्वारा में अरदास किया।

परिवर्तन यात्रा का समापन

परिवर्तन यात्रा समाप्त हुई। लखनऊ में कार्यकर्ताओं का उत्साह चरम पर था।सभी कार्यकर्ताओं को परिवर्तन यात्रा की सफलता के लिए धन्यवाद करता हूं। कार्यकर्ताओं ने जिस तरह यात्रा की सफलता के लिए दिन-रात परिश्रम किया वह उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के इतिहास की अमिट गाथा बन चुकी है।

वाराणसी में चल रहे राष्ट्रीय संस्कृति महोत्सव में आदरणीय प्रधानमंत्री जी का आगमन

संस्कृति मंत्रालय द्वारा काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में आयोजित राष्ट्रीय संस्कृति महोत्सव तथा भारत रत्न महामना पंडित मदनमोहन मालवीय जी के जन्म शताब्दी वर्ष स्मरणोत्सव में आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का आगमन सभी के लिए उत्साहवर्धक रहा।

जिला- लखीमपुर खीरी के मोहम्मदी, गोला और पलिया विधानसभा में परिवर्तन यात्रा

परिवर्तन यात्रा में आज जिला- लखीमपुर खीरी के मोहम्मदी, गोला और पलिया विधानसभा में हूँ । परिवर्तन रैली की अपार सफलता के लिए सभी कार्यकर्ताओं को कोटि कोटि धन्यवाद। हर दिन परिवर्तन का सवेरा प्रखरतम होता जा रहा है। जनसभा में उमडा जनसैलाब इस बात का संकेत है कि उत्तर प्रदेश में परिवर्तन तय है।

काशी हिंदू विश्वविद्यालय के भव्य परिसर में राष्ट्रीय संस्कृति महोत्सव का उद्घाटन

काशी हिंदू विश्वविद्यालय के भव्य परिसर में राष्ट्रीय संस्कृति महोत्सव का उद्घाटन अद्भुत और अतुलनीय रहा। भारत रत्न महामना पंडित मदन मोहन मालवीय जी के बनाए महान परिसर में संस्कृति महोत्सव की छटा अत्यंत मनमोहक, उल्लास-उमंग और उत्साहपूर्ण दिखाई पड़ी। पूरे देश की कला-संस्कृति का समागम महामना के सपनों के अनुरूप और विश्वविद्यालय के शताब्दी वर्ष में उन्हें देश की ओर से विनम्र श्रद्धांजलि है। आदरणीय कुलपति डॉ. गिरीश चंद्र त्रिपाठी जी एवं संस्कृति सचिव एन के सिन्हा जी के साथ भारत कला भवन में संरक्षित महामना को मिले भारत रत्न को भी देखने का सुअवसर मिला।

प्रधानमंत्री जी का आह्वान, जन जन तक पहुंचे कैशलेश अभियान।

आइए, हम मिलकर कैशलेश भुगतान मुहिम को सफल करें। अपने अधिक से अधिक खर्चों का कैशलेश माध्यमों से भुगतान करें। जिन बंधुओं को कैशलेश भुगतान के तरीके नहीं मालूम हैं, उन्हें हम मोबाइल बैंकिंग के तरीकों से परिचित कराएं। हमारा मोबाइल ही हमारा बटुआ है, इस घोषणा को साकार करें। डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, आधार कार्ड समेत इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा हम अपनी दिन-प्रतिदिन की आवश्यकताओं को पूरा करें।

भारत के समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का उत्सव है “गीता जयंती”

अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती समारोह के भव्य आयोजन के लिए मैं हरियाणा सरकार, प्रशासन और इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु अपना योगदान देने वाले सभी स्वयंसेवकों का ह्रदय से अभिनन्दन करता हूँ ।

दुनिया भर के विद्यालय, विश्वविद्यालय, प्रबंध संस्थान और कारपोरेट से जुड़े लोग जीवन में शांति, उन्नति और सफलता के लिए गीता के रहस्यों को जानने, समझने में लगे हैं । हम सौभाग्यशाली हैं कि गीता की जन्मस्थली में कुछ पुण्य कार्य करने का अवसर मिला है ।

कुरुक्षेत्र में गीता जयंती वर्षों से होती आ रही है । लेकिन इस स्थानीय उत्सव को अंतरराष्ट्रीय महोत्सव बनाने की परिकल्पना और उसका भव्य आयोजन सराहनीय है ।

गीता जयंती अवसर पर 1 से 10 दिसंबर २०१६ तक कुरुक्षेत्र में लगभग 20 लाख से अधिक पर्यटकों का आगमन हुआ है । 1 करोड़ 75 लाख गीता प्रेमियों ने इंटरनेट पर संपर्क साधा । 18 हजार 473 बच्चों द्वारा सामूहिक गीता पाठ कर विश्व रिकार्ड बनाया गया । 700 स्टालों के माध्यम से भारतीय संस्कृति को ब्रह्मसरोवर के तट पर मेले के रूप में प्रस्तुत किया गया । देश के 574 जिलों के प्रतिनिधियों द्वारा प्रादेशिक लोक-वेशभूषा में पहुंचकर श्लोकों का उच्चारण किया गया । कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में ४ दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन हुआ साथ ही संतों-महात्माओं द्वारा एक साथ 25 देशों में गीता के श्लोकों का उच्चारण भी किया गया । यह सब इस आयोजन के सफलता की झलक है ।

दुनिया में कहीं भी जब हम भारतीयों का परिचय होता है या हमें जाना जाता है तो हमारी पहचान के रूप में हमारी समृद्ध संस्कृति की बात होती है । वास्तव में हमारी संस्कृति ही हमारी पहचान है ।
हमारी सांस्कृतिक पहचान के सैकड़ों उदाहरण हो सकते हैं, कृष्ण, गीता और कुरुक्षेत्र भारत की सांस्कृतिक पहचान है ।

भारत में आध्यात्मिक पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं । पर्यटन मंत्रालय ने धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु स्वदेश दर्शन योजना के अन्तर्गत बुद्ध सर्किट, रामायण सर्किट और कृष्ण सर्किट की शुरुआत की है । कृष्ण सर्किट का एक प्रमुख केंद्र कुरुक्षेत्र है । कुरुक्षेत्र विश्व पर्यटन मानचित्र पर उभरे ऐसी कार्य योजना हम बना रहे हैं ।

दुनिया के कई शहर हैं जिनकी आजीविका और विकास की जड़ में धार्मिक पर्यटन है । दुनिया भर में रहने वाले करोड़ों कृष्ण भक्त की इच्छा होती है कि जीवन में वो एक बार गीता जन्मस्थली जरूर आये। ऐसी संभावनाओं को संभव बनाने का यह सबसे उपयुक्त समय है ।
आदरणीय प्रधानमंत्री जी पर्यटन को विशेष महत्व देते हैं । प्रधानमंत्री जी ने वीकेंड टूरिज्म को बढ़ावा देने की बात कही है । दिल्ली में आने वाले अथवा रहने वालो के लिए कुरुक्षेत्र बेहतर वीकेंड टूरिस्म स्पॉट बन सकता है ।

आने वाले वर्षों में गीता जयंती दुनिया भर के पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बने इस पर हम सभी यह योजना कर रहे हैं ।

हिमाचल प्रदेश से सांसद श्री वीरेंद्र कश्यप जी के साथ मुलाकात।

हिमाचल प्रदेश से सांसद श्री वीरेंद्र कश्यप जी के साथ मुलाकात। पर्यटन और सांस्कृतिक महत्व के अनेक मुद्दों पर चर्चा हुई।

अलीगढ में परिवर्तन रैली

अलीगढ में परिवर्तन रैली की अपार सफलता के लिए सभी कार्यकर्ताओं को कोटि कोटि धन्यवाद। परिवर्तन यात्रा में जबर्दस्त जनसमागम हुआ। भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने संकल्प ले लिया है कि उत्तर प्रदेश में विकास का नया सवेरा लाकर रहेंगे। परिवर्तन यात्रा में उमड़ रहा जनसैलाब इस बात का संकेत है कि उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में जनादेश का मन बना चुका है।